Sunday, 1 June 2014

A Letter to Arvind Kejriwal

एक पाती अरविन्द केजरीवाल के नाम
ओ अरविंद,
व्हाट्स योर प्रॉब्लम ड्यूड? अरे लोग आनंद से सो रहे हैं तो सोने दो ना.. तुम्हे बड़ा शौक चढ़ा है उनकी नींद खराब करने का? करोगे तुम भ्रष्टाचार दूर? लाओगे तुम स्वराज? करोगे तुम व्यवस्था-परिवर्तन? बदलोगे तुम देश को? माननीय बाबाजी का पावन ठुल्लू?

अबे.. वो मैग्सेसे अवार्ड क्या मिल गया? तो क्या तुम्हे हमारी छाती पर मूंग दलने का अधिकार मिल गया? ऐसे अवार्ड हमारे श्रद्धेय नेताओं और हमारी जूती पर! तुमने अन्ना को और उनके मंच को यूज़ किया है....छाती में खंजर भोंकू कही के...सीखो कुछ जनरल साहब से जो केन्द्र में मंत्री बन गए .. सीखो कुछ किरण मैडम जी से जो यू टर्न मारके अब दिल्ली की सी एम बनेंगी... बड़े आये तुम नेता बनने... भैगोड़े कहीं के ...भाग गये दिल्ली की कुर्सी छोड़ के.... अबे पगले ... ख़ाक नेता हो? कुर्सी होती है चिपकने के लिए ... जोंक की तरह... और तुम भाग गये जनता को त्राहि माम करते हुए? नेताओं के कीटाणु क्यूँ नहीं हैं तुम में? गिरते क्यूँ नहीं हो थोडा? तुम्हारा आत्म-सम्मान गया तेल लेने ... बेच देना था खुद की आत्मा को .. बच्चों की कसम खाते हो? खाना था तो पुल खाते, सड़के खाते, कोयला खाते, थोडा सा देश को टेस्ट करते और फिर देखते कैसे सम्मान मिलता तुम्हे इन्ही लोगो द्वारा... आये बड़े दूध के धुले काजल की कोठरी में?

बिन्नी तुम्हें छोड़ गया, गोपीनाथ भगा, शाजिया तुम्हे छोड़ गयी .. सुधरो मिंयाँ... तानाशाही नहीं चलेगी नहीं तो कार्यकर्ता तान देंगे... लोग चुनावों के बाद विदेश रंगरलियाँ मनाने जाते हैं और तुम कमबख्त जेल चले गये... ड्रामेबाज़ कहीं के...अब महात्मा गांधी ने 1917 में नैतिक मूल्यों पर बेल लेने से मना कर दिया तो तुम भी ऐसा करोगे? 1930 में अगर गांधी जी टाइम मैगज़ीन के कवर पर आने वाले पहले भारतीय थे और तुम अब 2014 में दुसरे बन गये हो तो क्या गांधी बन जाओगे? अबे गांधी तो आजकल कोई बाबा को घोषित किया गया है जो कहता है कि मैं जब मूत्र-विसर्जन के लिए भी निकलता हूँ तो दो हज़ार लोग इकट्ठे हो जाते हैं? और बाबा चाहते तो प्रधानमंत्री बन सकते थे लेकिन बाबा का ऐसा अनूठा त्याग? बाबा रे बाबा ...!! लोगों को यहाँ बेल और पर्सनल बांड का अंतर नहीं पता बाबू... हम कोई वकील थोड़े ही हैं? अब माफ़ी मांगते हो दिल्ली की जनता से? यहाँ नेता जी बलात्कार उकसाऊ बयान देकर भी शर्मिंदा नहीं होते? कुर्सी भी कोई छोड़ता है भला? तुम्हारी तो औकात ही क्या है जी?

क्या तुम सारा दिन चोर चोर खेलते हो? बाहर आओ बचपन के चोर सिपाही खेल से... नेता चोर, पुलिस चोर, मीडिया चोर, व्यापारी चोर .. ऐसे चौड़े में कौन कहता है बे? जनता कितना हर्ट हो जाती है पता है तुम्हे? तुमने बोला मीडिया कॉर्पोरेट के चंगुल में है अब देखा न अम्बानी ने चार हज़ार करोड़ में खरीद लिया कित्ते चेनलों को... गैस घोटाले पर बोला और पता नहीं ये कोर्ट ने क्यूँ मान लिया कि तुम सही कह रहे थे? ज्योतिषी बन जाओ मैं कहता हूँ!

बेटी तुम्हारी 96% मार्क्स ला रही है? ये भी कोई नेताओं के बच्चों के लक्षण हैं? वे तो किसी कटारा की हत्या करते हैं, वे तो किसी जेस्सिका को गोली मारते हैं! क्यूँ आ गये यार इस फील्ड में? अरे तुमसे आधी उम्र की लड़कियां तुम्हे फेसबुक पर गाली देती हैं, तुम्हे खुजलीवाल, भगोड़ा, खांसीराम, aaptaard, साला, कमीना कहती हैं क्योंकि उनके पप्पा ने सिखाया है, तुम्हे बुद्धिजीवी लोग पल्टूराम, पाकिस्तान का एजेंट कहते हैं, तुम्हे योग और अध्यात्म के मार्ग पर चलने वाले लड़के सारा दिन फेसबुक पर स्टेटस अपडेट करके गाली देते हैं – देशद्रोही, गद्दार तक कहते हैं? क्या भीतर की यात्रा है उनकी? अबे कुछ सर्प, गिध्ह, लोमड के अंश लाओ खुद में फिर देखो ये ही युवा कैसे तुम्हारे पीछे दौड़ते हैं! लोग तुम्हारी छोटी से छोटी हरकत पर नज़र रखते हैं जैसे एक शौपिंग माल का पिछला दरवाजा तुमने बंद करवा दिया था अपनी सहूलियत के लिए, तुमने रिश्वतखोरी बंद करवा दी थी, तुमने पानी और बिजली व्यवस्था को बहाल करने की कोशिश की थी...किस मिटटी के बने हो भाई? यहाँ लोगों को शोषण में मज़ा आता है ... लुटने और लूटने में मज़ा आता है!
तुम्हारे गाल पर थप्पड़ पड़ने में लोगों को मज़ा इसलिए आता है क्योंकि हम इस भ्रष्ट तंत्र का रोज़ अपने गालों पर पड़ने वाले थप्पड़ों के अभ्यस्त हो गये हैं!

काश ! काश ! काश ! आज जितने सवाल लोग तुम्हारे बारे में पूछते हैं और अपनी 'फ़ालतू' ऊंगली उठाते है काश वे पिछले 15-20 साल में भी इतने ही जागरूक होते ?? तरस आता है ऐसे 'बेहोश' लोगों पर जो उनको 'देशद्रोही' भी कह देते हैं बिना किसी कारण के .. हाहा !!

सत्य पहचानो, सत्य को जानो

सोच बदलो, देश बदलो।

जय हिन्द।

Monday, 10 February 2014

Arvind Kejriwal and Aam Aadmi Party



2011 से पहले की राजनीति पर एक नज़र डालिए:-



1. कांग्रेस कोल ब्लाक की रेवड़ियां बाँट रही थी, और बीजेपी, BJD जैसी सरकारें उसकी सिफारिश कर रही थी.

2. CWG में कलमाड़ी साहब पैसे बना रहे थे और विजय कुमार मल्होत्रा जी भी.

3. 2G के कारण संसद तो पूरी तरह से ठप्प थी ही.

4. चौहान साहब आदर्श घोटाले में फ्लैट बाँट रहे थे. राजठाकरे/बालठाकरे उत्तर भारतीयों पर जुल्म ढा रहे थे.

5. मायावती जी UP लूट रही थी, और निशंक उत्तराखंड.

6. मोदी जी अदानी/अम्बानी को 1 रुपये एकड़ में ज़मीन दे रहे थे.

7. यदुरप्पा जी कर्णाटक की खदाने खाली कर रहे थे, धूमल जी हिमाचल के पहाड़ बेच रहे थे.

8. रोबर्ट वाड्रा भी खुश था और S भट्टाचार्य भी.

9. आईपीएल में राजीव शुक्ला और जेटली जी मिलकर कमा रहे थे.

10. मीडिया भी हीरो/हिरोइनों के ठुमको और क्रिकेट में ही गुम था.

11. बुद्धिजीवी देश छोड़ कर जा रहे थे, और युवाओं की राजनीति में कोई दिलचस्पी ही नहीं थी.

कितनी अच्छी तरह से देश चल रहा था. इस कम्बखत  केजरीवाल ने सब गुड गोबर कर दिया.




Aam Admi Party Registration,
Arvind Kejriwal Party,
Aam Aadmi Party Donation List,
Aam Aadmi Party Facebook,
Aam Aadmi Party Dwarka,
Aam Aadmi Party Org,
Donate Aam Aadmi Party,
Bharat Nirman Scheme,


Arvind Kejriwal Party

Arvind Kejriwal Party



Arvind Kejriwal Party,


 aam aadmi party,
Aam Admi Party Registration,
Arvind Kejriwal Party,
Aam Aadmi Party Donation List,
Aam Aadmi Party Facebook,
Aam Aadmi Party Dwarka,
Aam Aadmi Party Org,
Donate Aam Aadmi Party,
Bharat Nirman Scheme,











Monday, 30 July 2012

India Against Corruption



India Against Corruption (IAC) is a citizen's movement to demand strong anti-corruption laws. Lokpal bills were introduced several times since 1968, yet they were ...


Strategy · Anna Hazare's role · People behind the ... · Political support
India Against Corruption (IAC) is a people's movement to demand comprehensive reforms of anti-corruption systems in India. A country where leaders like Mahatma Gandhi ...
India Against Corruption

India Against Corruption - Public Community & Discussion Group. Also deals with anti reservation and consumer movement in India
2011 Indian anti-corruption movement - Wikipedia, the free

.
The 2011 Indian anti-corruption movement were a series of demonstrations and protests across India intended to establish strong legislation and enforcement against ...
India Against Corruption - News Stories, Latest News Headlines on ...
timesofindia.indiatimes.com/India-Against-Corruption/special...
Find the latest headlines and stories for India Against Corruption. Read Latest News stories about India Against Corruption. View photos and videos about India ...
India Against Corruption

Facebook is a social utility that connects people with friends and others who work, study and live around them. People use Facebook to keep up with friends, upload an ...
India Against Corruption - Latest News on India Against Corruption


India Against Corruption - Get latest news on India Against Corruption. Read Breaking News on India Against Corruption updated and published at Zee News
India against Corruption: Latest News, Videos, Photos | Times of India


See India against Corruption Latest News, Photos, Biography, Videos and Wallpapers. India against Corruption profile on Times of India
India Against Corruption


India Against Corruption is a people's movement to eliminate corruption from public life, and to seek better laws against corruption
Related searches for india against corruption





Both Houses of Parliament on Saturday passed a resolution conveying the sense of the House on the Lokpal Bill,





Both Houses of Parliament on Saturday passed a resolution conveying the sense of the House on the Lokpal Bill, paving the way for Anna Hazare to break his fast.



On a motion moved by Pranab Mukherjee, Lok Sabha and Rajya Sabha passed a resolution conveying the sense of the House on the Lokpal Bill.


Monday, 12 December 2011

social activist anna hazare anna hazare rti anna hazare patil



anna hazare
anna hazare biography
autobiography of anna hazare
anna hazare man and his philosophy
anna hazare fast
anna hazare wallpapers
social activist anna hazare
anna hazare rti
anna hazare patil